-->
Hindi Book लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

Importance Of Words - अक्षरों का महत्व

अक्षरों की कहानी..... Importance Of Words  यह पुस्तक अक्षरों से बनी है। सारी पुस्तके अक्षरों से बनी है। तरह-तरह की पुस्तके। तरह-तरह के अक्षर। दुनिया में अब तक करोड़ो पुस्तके छप चुकी है। हजारो…

Mahatma Gandhi Essay In Hindi - महात्मा गाँधी का निबंध

आज के इस लेख में Mahatma Gandhi Essay In Hindi में दिया गया है। यदि आप भी 500 Words या 1000 Words का निबंध महात्मा गाँधी से संबंधित खोज रहे है तो आज का यह लेख आपके लिए उपयोगी होने वाला है। महात्मा ग…

अपठित गद्यांश । हल विधि । उदाहरण प्रशन उत्तर

अपठित गद्यांश । हल विधि। अपठित गद्यांश का उदाहरण प्रशन उत्तर के साथ अपठित गद्यांश क्या है? अपठित का अर्थ न को पढ़ा हुआ अर्थात् गद्य का एक ऐसा अंश जो हमने पहले पो पढ़ा नहीं है अपठित गद्यांश कहलाता …

अपठित गद्यांश । हल विधि । उदाहरण प्रशन उत्तर

अपठित गद्यांश । हल विधि। अपठित गद्यांश का उदाहरण प्रशन उत्तर के साथ अपठित गद्यांश क्या है? अपठित का अर्थ न को पढ़ा हुआ अर्थात् गद्य का एक ऐसा अंश जो हमने पहले पो पढ़ा नहीं है अपठित गद्यांश कहलाता…

विशेषण - परिभाषा, भेद एवं प्रकार इन हिंदी

आज के लेख में हम आपको विशेषण किसे कहते है अर्थात विशेषण की परिभाषा क्या होती है ? इसके बारे में विस्तार से बताने वाले है वो भी सरल भाषा इन हिंदी में तथा इसके साथ-साथ विशेषण के कितने भेद या प्रकार हो…

सर्वनाम किसे कहते है ? परिभाषा, भेद, प्रकार

सर्वनाम  ( Sarvanam&Pronoun In Hindi ) - आज के इस लेख में हम सर्वनाम के बारे में सिखाने वाले है, इस आर्टिकल में सर्वनाम के भेद के बारे में चर्चा करेंगे। यदि आप भी सर्वनाम क्या है ? इसके कितने भे…

संज्ञा किसे कहते है ? संज्ञा की परिभाषा क्या होती है ?

प्रिय दर्शको आज की इस पोस्ट में हम आपको संज्ञा की परिभाषा बता रहे है, इसके साथ-साथ संज्ञा कितने प्रकार की होती है तथा उनकी परिभाषा भी इस पोस्ट में आपको बताने वाले है, तो आइये बिना टाइम व्यर्थ किये ह…

अपठित काव्यांश | अपठित पद्यांश का उदाहरण हल सहित

अपठित काव्यांश क्या है ?  अपठित काव्यांश किसी कविता अथवा पद्य का वह अंश ( भाग ) है, जो पाठ्यपुस्तक में अध्ययन के लिए निर्धारित किसी भी कविता से संबंधित न हो। परीक्षाओ के अंतर्गत प्रशन-पत्र में पहल…

आलेख : आवश्यक लेखन तत्व तथा उदाहरण

लेख से पूर्व ''आ'' उपसर्ग जोड़ने से आलेख शब्द बनता है। आलेख निबंध लेखन का ही एक लघु रूप है। 'आ' उपसर्ग लेख के सम्यक और सर्वांग-सम्पूर्ण होने को व्यंजित करता है। समाचार पत्रो…
सबसे नया पेज मुखपृष्ठ पुराने
Subscribe Our Newsletter