सर्वनाम किसे कहते है ? परिभाषा, भेद, प्रकार

सर्वनाम ( Sarvanam&Pronoun In Hindi ) - आज के इस लेख में हम सर्वनाम के बारे में सिखाने वाले है, इस आर्टिकल में सर्वनाम के भेद के बारे में चर्चा करेंगे। यदि आप भी सर्वनाम क्या है ? इसके कितने भेद तथा प्रकार है उनकी परिभाषा क्या है, सर्वनाम की परिभाषा क्या है या फिर सर्वनाम किसे कहते है ? आदि प्रशनो के उत्तर जानना चाहते है तो इस लेख को आखिर तक पढ़ते रहे आपको आपके सभी सवालों के जवाब मिल जायेंगे। 

सर्वनाम किसे कहते है ? सर्वनाम की परिभाषा ? ( Sarvanam Ki Pribhasha )

संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त होने वाले शब्दों को सर्वनाम कहते है। जैसे में, तुम, वे, वहां आदि। 

सर्वनाम के कितने भेद होते है ? सर्वनाम के कितने प्रकार होते है ? ( Sarvanam Ke Bhed )

सर्वनाम के छः भेद या प्रकार होते है -
1. पुरुषवाचक सर्वनाम 
2. निश्चयवाचक सर्वनाम 
3. अनिश्चयवाचक सर्वनाम 
4. संबंधवाचक सर्वनाम 
5. प्रशनवाचक सर्वनाम 
6. निजवाचक सर्वनाम 

मुख्य सर्वनाम की परिभाषाये -

(A) पुरुषवाचक सर्वनाम की परिभाषा तथा उदाहरण 

जो सर्वनाम वक्ता ( बोलने वाला ), श्रोता ( सुनने वाला ), या किसी अन्य व्यक्ति के बारे में प्रयोग में आते है, उन्हें पुरुषवाचक सर्वनाम कहते है। 

पुरुषवाचक सर्वनाम के तीन भेद होते है -

1. उत्तम पुरुष ( बोलने वाला ) - जैसे में, हम, मैंने, हमने आदि। 

2. मध्यम पुरुष ( सुनने वाला ) - जैसे तू, तुमने, तुम, आप। 

3. अन्य पुरुष - जैसे वह, वे, उसने, उन्होंने, उसका इत्यादि। 

(B) निजवाचक सर्वनाम किसे कहते है ? उदाहरण दीजिये ?

जिस सर्वनाम शब्द का प्रयोग कर्ता स्वयं के लिए करता है उसे निजवाचक सर्वनाम कहते है। जैसे आप , अपने आप।  

अन्य लेख पढ़े -













टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां