-->

हिंदी कहानी - नेवला और सांप ( Kahani In Hindi )

हिंदी कहानी - नेवला और सांप ( Kahani In Hindi )

Kahani In Hindi

नेवला और सांप 

एक नगर में एक ब्राह्मण रहता था। उसकी एक पत्नी थी। कुछ दिनों के बाद उनके घर में एक बेटे का जन्म हुआ। वे दोनों बहुत प्रसन्न हुए। गरीब होने पर भी वे दोनों उसका लालन-पालन करने में अच्छे कार्य कर रहे थे। दोनों उसका अच्छा ख्याल रखते थे। कभी उसे अकेला नहीं छोड़ते थे। 

एक दिन उसकी माँ नदी पर नहाने के लिए गयी। वह अपने पति को अपने बेटे के पास बैठा गयी। 

यह पढ़े :- 

अचानक उस नगर के राजा की दासी वहां आई और बोली ''महाराज आपको अभी राजमहल चलना होगा आपको पूजा करवानी है। 

ब्राह्मण सोच में पड़ गया। अगर वह पूजा करवाने राजा के दरबार में जाता है तो बीटा अकेला रह जायेगा और यदि नहीं जाता तो उसे दक्षिणा नहीं मिलेगी। वह करे तो क्या करे ? 

बहुत सोचने पर उसे एक उपाय सुझा। उसके पास एक पालतू नेवला था। उसे वह अपने बेटे की रक्षा के लिए उसके पास छोड़ गया और स्वयं दासी के साथ चला गया। 

उसके जाने के कुछ देर बाद एक सांप वहां आया और उस बालक की
तरफ जा रहा था। नेवले ने सांप को देखा फिर बच्चे को देखा। नेवला बड़ा स्वामी भक्त था। स्वामी के बेटे के प्राणो की रक्षा के लिए उसने सांप पर हमला बोल दिया और उसके टुकड़े-टुकड़े कर डाले। 

यह पढ़े :- 


थोड़ी देर बाद बहुत सारी दक्षिणा लेकर वह ब्राह्मण भी अपने घर लोटा। नेवला उसे दरवाजे पर ही मिला। नेवले के मुँह पर खून लगा हुआ था। उसने समझा कि नेवले ने उसके बेटे को मार डाला है। बस जल्दबाजी में सोचते-सोचते ही उसने एक बड़ा पत्थर उस नेवले के ऊपर दे मारा। 
बेचारा नेवला उसी वक्त मर गया। 

अब ब्राह्मण अंदर गया। वहां उसका पुत्र बड़े ही आराम से लेटा हुआ था और उसकी चारपाई के पास एक मरा हुआ सांप पड़ा हुआ था। 
यह देखते ही वह सब कुछ समझ गया। उसे बहुत दुःख हुआ उसकी अनजाने में कि गई गलती पर। 

"लेकिन अब पछताए होता क्या जब चिड़िया चुग गई खेत"

दोस्तों यह हिंदी कहानी ( KAHANI HINDI ) हमे मोरल शिक्षा के रूप में यह सीखाना चाहती है की हमे कोई भी कार्य जल्दबाजी में नहीं करना चाहिए। प्रिय दर्शको यदि आप नियमित रूप से यहाँ पर आते रहेंगे तो आपको बहुत कुछ सिखने को मिलेगा। इसलिए हमेशा आप जब भी फ्री बैठे हो सीधे यहाँ आइये और हमारी ज्ञानवर्धक हिंदी कहानियों से सीखते रहिये इसके साथ ही आप नयी पोस्ट की सुचना पाने के लिए इस ब्लॉग को ईमेल से सब्सक्राइब कर सकते है यह बिल्कल फ्री है। 

हिंदी कहानियो के संग्रह में से आपके लिए कहानिया 




🆕 लव और कुश की लोकप्रिय हिंदी कहानी [ Hindi Kahani ]


बेस्ट के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए अभी निचे पसंद करे दबाये।

Lokesh Reshwal
Writter&Blogger

Related Posts

टिप्पणी पोस्ट करें

Subscribe Our Newsletter