आईपीएस ( IPS ) कैसे बने सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में

IPS FULL FORM

आईपीएस  की फुल फॉर्म इंडियन पुलिस सर्विस होती है जबकि अंग्रेजी में आईपीएस की फुल फॉर्म INDIAN POLICE SERVICE होती है  यह सेवा भारत की सबसे बढ़ी देश सेवा के नाम से जानी जाती है जिसमे कोई भी स्टूडेंट इसकी पात्रता को पूरा करते हुए Ips सर्विस को ज्वाइन कर सकता है। आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए कई स्टेप्स को पूरा करना होता है जिनको स्टेप बाय स्टेप निचे बताया गया है। आईएएस के बाद आईपीएस देश की दूसरी बढ़ी सिविल सर्विस है जिसमे प्रत्येक साल upsc द्वारा एग्जाम कंडक्ट करवाया जाता है। एक IPS अफसर बनना इतना आसान नहीं है परन्तु इतना कठिन भी नहीं है आईपीएस बनने के लिए लड़ना पड़ता है किताबो से रातो से दिनों से खुद से। चलिए जानते है आईपीएस (IPS ) कैसे बने की पूरी जानकारी।


IPS कैसे बने -पूरी जानकारी ,आईपीएस ( IPS ) कैसे बने सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में


कई बार ऐसा होता है की हमे लगने लगता है की मुझे बढ़ी नौकरी चाहिए जिसमे सेल्लरी बढ़िया हो इसके साथ ही सर्विस ऐसी हो जिसमे पावर हो तो डायरेक्ट हमारा दिमाग आईएएस या आईपीएस के बारे में सोचने लगता है। फिर हमे  IPS कैसे बने की पूरी जानकारी जानना जरुरी होता है। आपको यहाँ पर इसकी पूरी जानकारी दी जा रही है। 


आईपीएस के लिए शैक्षिक योग्यता 
IPS ELEGIBILITY

इसके लिए शैक्षिक योग्यता स्नातक रखी गयी है। आपके पास बीएससी,बी.ए. या बीकॉम की डिग्री होनी चाहिए। जो कैंडिडेट इस साल कॉलेज के लास्ट ईयर में है वो भी आईपीएस के लिए एलिजिबल होते है। 

आयुसीमा 
MAXIMUM AND MINIMUM AGE FOR IPS 

जो कैंडिडेट आईपीएस परीक्षा में हिस्सा लेना चाहते है उनकी आयु 21-30 वर्ष होनी चाहिए। आरक्षित वर्ग sc,obc,st को नियमानुसार आयु में छूट प्रदान की गयी है। 

शारीरिक योग्यता
 PHYSICAL QUALIFICATION FOR IPS

लम्बाई (Hight)

पुरुष अभ्यर्थियों के लिए 165 सेंटीमीटर लम्बाई निर्धारित की गयी है परन्तु आरक्षित वर्ग वाले स्टूडेंट्स को नियमानुसार 5 सेंटीमीटर की छूट दी गयी है। 

महिला अभ्यर्थियों की लम्बाई 160 सेंटीमीटर निर्धारित है परन्तु आरक्षित वर्ग की महिला को नियमानुसार पांच सेंटीमीटर की छूट है।   

वजन ( Weight )


पुरुष और महिला का वजन लम्बाई के अनुरूप होना चाहिए।


सीना ( chest )


पुरुषो का न्यूनतम सीना 84 सेंटीमीटर होना आवश्यक है वही महिलाओ के लिए 79 सेंटीमीटर निर्धारित है। 

चयन प्रक्रिया

IPS SELLECTION PROCESS

आईपीएस सर्विस ज्वाइन करने के लिए सेलेक्शन प्रोसेस को पूरा करना होता है। आईपीएस के सेलेक्शन प्रोसेस को दो चरणों में डिवाइड किया गया हैं। 

  1. परीक्षा 
  2. साक्षात्कार


परीक्षा
IPS EXAMS

आईपीएस सर्विस ज्वाइन करने के लिए यह पहला स्टेप होता है आईपीएस की परीक्षा को दो परीक्षाओ के रूप में पूरा करवाया जाता है जिसके अंतर्गत पहली परीक्षा प्रिपरीक्षा के नाम से जानी जाती है जबकि दूसरी परीक्षा को मुख्य परीक्षा के नाम से जाना जाता है। यह परीक्षाएं upsc द्वारा प्रतिवर्ष करवाई जाती है। जिसके अंतर्गत कुल पेपर्स होते है जिनमे टोटल मार्क्स 1750 होते है। 

साक्षात्कार 
IPS INTRVIEW

प्री परीक्षा और मुख्य परीक्षा में उत्तीर्ण होकर चयनित हुए अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है यह 275 मार्क्स का होता है। इसमें अभ्यर्थियों का पर्सनालिटी टेस्ट लिया जाता है। 

ट्रेनिंग 
IPS TRAINING

जो अभ्यर्थी साक्षात्कार उत्तीर्ण कर लेते है तथा मेरिट लिस्ट में चुन लिए जाते है उनको एक साल की ट्रेनिंग पूरी करनी होती है। सफल अभ्यर्थियों को ट्रेनिंग के लिए मसूरी और हैदराबाद में भेजा जाता है जहा पर इन अभ्यर्थियों को क्रिमिनोलॉजी,दंड सहिता और स्पेसल लौ की ट्रेनिंग दी जाती है। 

कार्य 
IPS WORK SERVICE

फाइनली चयनित अभ्यर्थियों को आईपीएस की सेवा के लिए जोइनिंग दे दी जाती है। आईपीएस अफसर का मुख्य कार्य कानून व्यवस्था को बनाये रखना होता है। जिसके अंतर्गत अनेक छोटे-छोटे टॉपिक आते है जैसे चोरी,डकैती,मानव तस्करी ,ड्रग्स तस्करी,आतंकवाद। 

आखिर में 
IPS KAISE BANE

हम उम्मीद करते है की आपको आईपीएस ( IPS) कैसे बने के बारे में पूरी जानकारी मिल गयीं होगी। किसी प्रकार का सवाल या कोई बात पूछनी हो तो कमेंट करे हम आपके सवाल का जवाब जल्द से जल्द देने का प्रयास करेंगे। 

NEXT ARTICLE Next Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post
NEXT ARTICLE Next Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post