Tuesday, April 21, 2020

मुर्ख ब्राह्मण और बिलाव की फनी स्टोरी - Best Short Funny Story In Hindi

Best Books की एक और फनी स्टोरी में आपका स्वागत है, आज की यह Funny story बहुत ही मजेदार है। यह फनी कहानी एक मुर्ख ब्राह्मण और बिलाव की है जो काफी रोचक भी है। 


उज्जैन नगरी में एक मठ था। उस मठ में एक ब्राह्मण रहता था। वह बड़ा ही महामूर्ख था। उस मठ में चूहे भी रहते थे। चूहे रात को जोरदार उत्पात मचाते थे। बेचारा ब्राह्मण रात को आराम से सो भी नहीं पाता था। 

एक दिन ब्राह्मण का मित्र उससे मिलने आया। तब उसने अपने मित्र को चूहों के उपद्रव के बारे में बताया और गहरी चिंता जाहिर की। 




मुर्ख ब्राह्मण और बिलाव की फनी स्टोरी - Best Short Funny Story In Hindi


मित्र बोला अरे चूहों से छुटकारा पाना तो बहुत आसान है। अपने मठ में एक बिलाव पाल लो वह इन सारे चूहों को खा जायेगा। 

मुर्ख ब्राह्मण ने कहा अरे यह बिलाव होता क्या है ? मेने तो कभी देखा ही नहीं ? 

मित्र ने उत्तर दिया अरे तुम बिलाव को नहीं जानते ! उसकी आँखों का रंग भूरा होता है और शरीर का रंग पीला और मठमेला होता है उसकी पीठ पर सुनहरे बाल होते है। वह अक्सर गलियों में घूमता रहता है। 
यह सब बताकर मित्र अपने घर चला गया। तब उस ब्राह्मण ने अपने शिष्यों को वहां बुलाया और कहा तुम सब ने बिलाव की पहचान तो सुन ही ली है कल एक बिलाव ढूंढ कर ले आना। 

गुरु की आज्ञा पाकर सभी शिष्य बिलाव को ढूंढने निकल गए। वे बार बार रठते रहते - उसकी आँखे बुरी होती है। उसके बाल सुनहरे होते है। वह अपनी पीठ पर बालो वाला मृगचर्म ओढ़े रहता है। 

आखिर एक दिन उन्हें ऐसा जीव मिल ही गया। वह  ब्रह्मचारी था। वे उसी को बिलाव समझ कर उठा लाये। गुरूजी भी महामूर्ख  उन्होंने भी उसे बिलाव ही समझा और रात के समय उसे  कमरे में बंद कर दिया। 

सवेरे वह मित्र आया और उसने देखा कि कमरे  में एक ब्रह्मचारी बंद था। मित्र ने ब्राह्मण को कहा आपने उन्हें क्यों बंद किया हुआ है कमरे में ?

मुर्ख ब्राह्मण ने उत्तर दिया तुमने ही तो कहा था बिलाव को पकड़ने के लिए। सो इसे हमने पकड़कर कमरे में बंद कर दिया। 

यह पढ़े :- कहानी छोटा जादूगर - बेस्ट मोरल स्टोरी इन हिंदी

यह सुनकर मित्र बड़े जोर से हंसा और बोला तुम बड़े ही महामुर्ख हो ! यह बिलाव नहीं एक ब्रह्मचारी है। बिलाव के तो चार टंगे और एक पूछ भी होती है यह तो आदमी है। 

यह सुनकर उन मूर्खो को बहुत दुःख हुआ। उन्होंने ब्रह्मचारी को छोड़ दिया परन्तु जब लोगो को यह स्टोरी पता चली तो वे  खूब हँसे और कहने लगे मुर्ख तो मुर्ख होते है पर पागल भी होते है यह आज हमे पता चला है। 

दोस्तों इस Short Funny story को आप सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते है। 

यह पढ़े :- 

लव और कुश की लोकप्रिय हिंदी कहानी

बनिये की तराजू - Intresting Story

गंजा मुर्ख - Baccho Ki Kahaniyan

खरगोश और हाथी की हिंदी स्टोरी

 कानो का सुख और रुई कैसे साफ़ हो गई

 धनवान मुर्ख